Monday, September 25, 2023
Homeक्राइमFraud in Rewari : अश्लील वीडियो हटाने के नाम पर फर्जी पुलिसकर्मी...

Fraud in Rewari : अश्लील वीडियो हटाने के नाम पर फर्जी पुलिसकर्मी बनकर ठगो ने की 17 लाख रूपये की ठगी, हुए गिरफ्तार

Fraud in Rewari : हरियाणा के रेवाड़ी जिले से हाल ही में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है जिसके अनुसार जिसके अंतर्गत कुछ ठाकुर ने मिलकर एक व्यक्ति के साथ 17 लाख रुपए का फ्रॉड किया है और उसके लिए उन्होंने अपने आप को पुलिसकर्मी और यूट्यूबर आदि बताकर काम किया। इस मामले के अंतर्गत ठगों ने एक व्यक्ति को अपने जाल में फंसा कर उसकी अश्लील वीडियो बना ली और उसके बाद उससे उस वीडियो को यूट्यूब पर अपलोड बताकर और अपने आपको पुलिस कर्मचारी यूट्यूब अधिकारी और यूटुबर आदि बताकर करीब करीब 17 लाख का फ्रॉड कर लिया।

इस तरह से ठगे ठगो ने 17 लाख रूपये

अगर पूरा मामला समझा जाए तो 17 मई को गुड़गांव के निवासी और वर्तमान समय में रेवाड़ी के महेश्वरी में रह रहे धर्म सिंह के पास एक कॉल आया था जिसमें एक युवती अर्धनग्न हालत में थी। कॉल पर आते ही युवती उनसे बात करने लग गयी और यह सब ठगो के द्वारा की जा रही साजिश थी। ठगो ने धरमसिंघ के द्वारा की गयी बातचीत को स्क्रीनरिकॉर्डर के द्वारा रिकॉर्ड कर लिया और उसके 5 दिन बाद उन्हें कॉल करके कहा की वह दिल्ली पुलिस के क्राइम ब्रांच से है और उनकी अश्लील वीडियो यूट्यूब पर डल रही है तो ऐसे में वह उस वीडियो को तुरंत डिलीट करवा दे अन्यथा वह मीडिया में चली जाएगी।

ठगो ने जो की अपने आपको पुलिकर्मी बता रहे थे, उन्होने एक नंबर पीड़ित को दिए और कहा की यह यूट्यूब अधिकारी के नंबर है तो ऐसे में उन्होंने यूट्यूब अधिकारी को कॉल किया। यूट्यूब अधिकारी बने ठग ने पीड़ित से वीडियो हटाने के नाम पर 50 हजार रूपये ले लिए। इसके बाद कुछ दिनों बाद अपने आपको पुलिसकर्मी बताकर ठगो ने पीड़ित से यह कहके पैसे लूट लिए की जिस युवती से उन्होंने बात की थी उसने वीडियो की वजह से सुसाइड कर ली है और वह वर्तमान में अस्पताल में दाखिल है और इस बहाने के द्वारा धर्म सिंह से 16 लाख 50 रूपये और ले लिए गए।

ऐसे पकड़ में आये अपराधी

पीड़ित के द्वारा केस दर्ज करवाने के बाद जब पुलिस के द्वारा जांच शुरू की गई तो पाया गया कि जिन खातों में पीड़ित ने पैसे डाले हैं वह अलग-अलग खाते हैं और इन सभी खातों में डाला गया पैसा बाद में एक खाते में ट्रांसफर किया गया और वह खाता कहरानी कि किसी युवक का निकला। बैंक खाते की जांच की गई तो पता चला कि एटीएम से पैसा पहले ही निकाल दिया गया है। इसके बाद पहले तो युवक को गिरफ्तार किया गया और उससे पूछताछ करने पर दूसरे युवक इकलाख के बारे में जानकारी मिली जिसके बाद उसे भी गिरफ्तार कर लिया गया। आगामी पूछताछ के लिए पुलिस ने दोनों को रिमांड में ले लिया है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments