Tuesday, September 26, 2023
Homeरेवाड़ीRewari News : फायर ऑफिसर 30 हजार की रिश्वत लेते हुए पकड़ा...

Rewari News : फायर ऑफिसर 30 हजार की रिश्वत लेते हुए पकड़ा गया रंगे हाथ, एनओसी रिन्यू करवाने के लिए मांगे थे एक लाख

Rewari News : हरियाणा के रेवाड़ी जिले से हाल ही में एक हैरान कर देने वाली खबर सामने आई है जिसके अनुसार एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम के द्वारा फायर ऑफिसर को 30 हजार की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ कर गिरफ्तार किया गया है। दरअसल फायर ऑफिसर ने एनओसी रिन्यू करवाने के लिए एक शख्स से एक लाख रूपये की मांग की थी जिसके बाद वह 30 हजार रूपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा गया और एसीबी के द्वारा उसे गिरफ्तार कर लिया गया। इसके बाद एसीबी ने आरोपी अधिकारी के खिलाफ करप्शन एक्ट के तहत उस पर कार्यवाही शुरू कर दी, जिससे की वह आगे ऐसा ना कर सके।

जानकारी के लिए बता दे कि सोमवार शाम को गुरुग्राम एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम ने शिकायतकर्ता को साथ लेकर दमकल विभाग के कार्यालय में जाकर आरोपी को रंगे हाथ रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया था क्योंकि आरोपी ने रिश्वत की रकम को लेकर शख्स को अपने कार्यालय में ही बुलाया था जिसके बाद एंटी करप्शन ब्यूरो के द्वारा और भ्रष्ट अधिकारी को उसके कार्यालय से ही गिरफ्तार किया गया। पूरी कार्यवाही के दौरान प्रशासन की तरफ से राकेश कुमार जो की जिला राजस्व अधिकारी है को बतौर ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किया गया था। एंटी करप्शन ब्यूरो सफलतापूर्वक भ्रष्ट अधिकारी को गिरफ्तार कर पाई।

यह है पूरा मामला

अगर पूरा मामला समझा जाए तो रेवाड़ी के धारूहेड़ा में मौजूद विपुल गार्डन सोसाइटी की आरडब्ल्यूए की तरफ से फायर एनओसी रिन्यू कराने के लिए दमकल केंद्र में आवेदन दिया गया था जिसके बाद फायर ऑफिसर सज्जन सिंह सांगवान ने एनओसी को रिन्यू करने के लिए आरडब्ल्यूए प्रधान से एक लाख रूपये की रिश्वत की मांग की थी। आरोपी पहले ही 40 हजार रूपये की रिश्वत ले चूका था और उसके बाद भी फायर एनओसी रिन्यू नहीं की गयी थी। जब कई बार चक्कर काटने के बाद भी एनओसी नहीं की गयी तो ऐसे में प्रधान कंवर सिंह के द्वारा एंटी करप्शन ब्यूरो को शिकायत दर्ज करवा दी गई।

बातचीत होने के बाद जब भ्रष्ट अधिकारी सज्जन सिंह सांगवान के द्वारा आरडब्ल्यूए प्रधान कंवर सिंह को रिश्वत लेने के लिए बुलाया गया था तब शिकायत के अनुसार एंटी करप्शन ब्यूरो गुडगांव की टीमली रेवाड़ी पहुंच गई और ड्यूटी मजिस्ट्रेट को अपने साथ लेकर गई। कार्यालय में 30 हजार रुपये की रिश्वत लेते ही एंटी करप्शन ब्यूरो के इंस्पेक्टर रणबीर सिंह के द्वारा भ्रष्ट अधिकारी को गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपी को टीम अपने साथ ले गई और वर्तमान समय में एंटी करप्शन टीम के द्वारा मामले की जांच की जा रही है। बता दें कि वर्तमान समय में एंटी करप्शन ब्यूरो के द्वारा भ्रष्ट अधिकारियों पर लगातार सख्त कार्यवाही की जा रही है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments