Saturday, September 30, 2023
Homeरेवाड़ीरेवाड़ी न्यूज: शराब ठेका हटवाने के लिए गांव भटसाना की पंचायत ने...

रेवाड़ी न्यूज: शराब ठेका हटवाने के लिए गांव भटसाना की पंचायत ने एसडीएम को दी आत्मदाह और रोड जाम की चेतावनी

रेवाड़ी न्यूज: हरियाणा राज्य के जिला रेवाड़ी में वित्त वर्ष के हिसाब से कुछ दिन पहले खुले शराब ठेकों को लेकर गांव भटसाना के ग्रामीणों ने विरोध शुरू किया है और यह विरोध लगातार आगे बढ़ता जा रहा है। ग्रामीणों की मांग की कि उनके गांव में खुले शराब के ठेके बंद करवाई जाए। इस विरोध को आगे बढ़ाते हुए सोमवार को गांव भटसाना की पंचायत ने अपने गांव में खुले हुए शराब के ठेके को बंद करवाने के लिए एसडीएम होशियार सिंह से मुलाकात की और उन्हें ज्ञापन सौंपा और साथ ही ठेका बंद ना होने पर आत्मदाह और रोड जाम की चेतावनी दी। ग्रामीणों का मानना है कि आबकारी विभाग ने पंचायत की सहमति के बिना ही ठेका खोलने की परमिशन दी है।

पंचायत ने दी एसडीएम को आत्मदाह और रोड जाम करने की धमकी

गांव के सरपंच भूप सिंह के द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार कुछ दिनों पहले उनके गांव में उस जगह पर शराब का ठेका खोला गया है जहां से कुछ दूरी पर ही बस स्टैंड है और इस बस स्टैंड से रोजाना गांव की बहन बेटियां आती जाती है और साथ ही पास में ही पीर बाबा का मंदिर भी है तो ऐसे में वह इस ठेके का विरोध कर रहे हैं। बताया गया कि उनके गांव में पहले कोई भी शराब का ठेका नहीं था लेकिन इस पर पंचायत की सहमति के बिना ही यह ठेका खोल दिया गया जो सरासर गलत है। पंचायत के द्वारा मांग रखी गई है कि इस ठेके को तुरंत बंद करवाया जाए अन्यथा वह आत्मदाह करने और रोड जाम करने पर मजबूर हो जाएंगे।

पहले भी आप करके भागने की थी ठेका बोलने की कोशिश

वार्ड नंबर 13 के जिला पार्षद निरंजन के द्वारा बताया गया कि भटसाना गांव की सीमा में पिछले कई सालों से शराब का ठेका नहीं खुलवाने की परंपरा चल रही है। वर्ष 2019 में भी आबकारी विभाग के द्वारा गांव की सीमा में ठेका खुलवाया गया था जिसे उन्होंने अपने प्रयास से चंडीगढ़ जाकर बंद करवाया था वह ठीक 4 साल बाद फिर से आबकारी विभाग ने उनके गांव में शराब का ठेका खोलने के लिए परमिशन दी और साथ ही उन्होंने परमिशन देने से पहले ग्रामीण पंचायत की सहमति भी नहीं ली जबकि नीति के अनुसार अगर कोई ग्राम पंचायत प्रस्ताव पास कर आबकारी विभाग को दे देती है तो उस गांव में शराब का ठेका नहीं खुलता।

गांव की बहन बेटियां ठेका खुलने के फैसले के चलते परेशान

जैसा की पंचायत के द्वारा बताया गया है कि बस स्टैंड के पास में ठेका खुलने से गांव की बहन बेटियों को भी समस्या आई है तो ऐसे में इसके उदाहरण भी सामने आ रहे हैं क्योंकि गांव भटसाना निवासी प्रियंका और बबीता ने जानकारी दी है कि गांव में शराब का ठेका खुलने से हालात खराब हो गए हैं और आम रास्ते पर ठेका खोल दिया है तो ऐसे में उस रास्ते से जाना मुश्किल हो चुका है। बताया गया कि शराबी सड़क पर ही शराब पीते हैं और कई बार पीने के बाद सड़क पर पड़े रहते हैं और उस से महिलाओं को खतरा बना रहता है तो ऐसे में उन्होंने एसडीएम से शराब का ठेका बंद करवाने की मांग की।

डीसी से भी मिलेंगे ग्रामीण

सोमवार को भटसाना गांव की ग्रामीण पंचायत और ग्रामीण बड़ी संख्या में एकत्रित होकर डीसी इमरान रजा से मिलने पहुंचे थे लेकिन किसी कारणवश उनकी विधि से मुलाकात नहीं हो पाई जिससे कि उन्होंने अपना ज्ञापन एसडीएम को सौंप दिया लेकिन बताया गया कि वह कल फिर से डीसी से मिलने आएंगे और अगर ठेका नहीं बंद करवाया गया तो सड़क जाम के साथ एक बड़ा आंदोलन किया जाएगा। बता दें कि यह पहली बार नहीं है जब रेवाड़ी जिले में शराब का ठेका बंद करवाने के लिए सड़क जाम हुए हैं बल्कि इससे पहले भी कई बार कई गांवों में ऐसा हो चुका है जिन गांवों के पक्ष में फैसले भी आए हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments